दशहरा की हिंदी में शुभकामनाएं: यहाँ देखें खास मैसेज

0
56

दशहरा पर्व हिन्दु धर्म में एक महत्वपूर्ण त्योहार है जो विजयादशमी के रूप में भी जाना जाता है। यह त्योहार आश्विन माह के शुक्ल पक्ष की दशमी को मनाया जाता है। दशहरा का त्योहार देशभर में उत्साह और जोश के साथ मनाया जाता है और यह संस्कृति, परंपराओं और धर्म के महत्व को साकार करता है।

दशहरा का महत्व:

दशहरा का त्योहार विजय का प्रतीक है, जिसे अच्छाई ने बुराई पर विजय प्राप्त किया। यह भारतीय समाज में समरसता, प्रेम और धर्म के महत्व को सार्थकता देता है।

दशहरा के इस पावन अवसर पर हम सभी एक-दूसरे को शुभकामनाएं देते हैं और साथ ही दशहरा के इस महान पर्व के बारे में अपनी भावनाओं को व्यक्त करते हैं।

दशहरा की शुभकामनाएं:

इस दिन विजयादशमी के अवसर पर हम अपने परिवार, दोस्तों, और अधिकारियों को निम्नलिखित मैसेज भेज सकते हैं:

  1. दशहरे के इस पावन अवसर पर, आपको और आपके परिवार को बहुत-बहुत शुभकामनाएं। यह त्योहार आपके घर में सुख, समृद्धि और समरसता लेकर आए।

  2. आपके और आपके परिवार को दशहरे की हार्दिक शुभकामनाएं। इस मंगलकामना के दिन, आपका जीवन समृद्धि से भर जाए।

  3. दशहरे की शुभकामनाएं! इस पावन दिन पर, नए आरंभों और उत्तरोत्तर प्रगति के साथ आपके जीवन को मंगलमय बनाएं।

  4. परंपरागत रूप से मनाया जाने वाला यह धार्मिक त्योहार आपके जीवन में नये उत्थान और सफलता की ओर ले जाए। दशहरे की शुभकामनाएं।

  5. दशहरे के इस पावन अवसर पर, आपके जीवन में खुशियों की बौछार हो और सुख-सम्रिध्दि का सागर उमड़े। शुभ विजयादशमी।

  6. दिशा ओ संदेश में भेजी गई इस छोटी सी दुआ से आप और आपके परिवार के जीवन में खुशियों की बौछार हो, समृद्धि का सागर उमड़े। दशहरे की हार्दिक शुभकामनाएं।

  7. इस विजयादशमी पर्व पर, पुराने दोषों को रद्द करें और नए उत्तरायण की ओर प्रगति करें। दशहरा की शुभकामनाएं।

  8. दशहरे के इस पावन मौके पर, भगवान राम और मां दुर्गा की कृपा आप पर सदा बनी रहे। शुभ विजयादशमी।

दशहरे के त्योहार पर आलिशान SMS:

  1. आपको और आपके परिवार को दशहरे की हार्दिक बधाई। ये त्योहार आपके जीवन में खुशियां और समृद्धि लाए।

  2. आपके जीवन में सुख, समृद्धि और सौभाग्य की बरसात हो। दशहरे की शुभकामनाएं।

  3. दशहरे की इस खास मौके पर, आप सभी के द्वारा मांगी गई हर मनोकामना पूरी हो। शुभ विजयादशमी।

  4. दशहरे की खास सजा-सजाकर, आपके जीवन को नए उत्थान और सफलता की ओर ले जाने की हार्दिक कामना।

  5. दशहरे का यह पावन अवसर आपके लिए आने वाले दिनों में सफलता और खुशियों की ओर आपको अग्रसर करे।

दशहरे का आयोजन:

दशहरे के त्योहार को लोग विभिन्न तरीकों से मनाते हैं। कुछ लोग इसे रामलीला और रवन दहन के साथ मनाते हैं, जबकि कुछ लोग अपने घर पर परिवार के साथ पूजा एवं उत्सव करते हैं।

यह त्योहार विजय का प्रतीक है और लोग शुभकामनाएं एक-दूसरे को देते हैं।

दशहरे की खास रंगोलियां:

  1. रंगों से भरी हुई शुभकामनाएं
  2. मां दुर्गा की प्रतिमा
  3. विजय की शोभा
  4. दशहरे के त्योहार की रंग-बिरंगी रोशनी
  5. आत्मा की शुद्धि का प्रतीक

दशहरे के त्योहार की खासियत:

  1. धर्मिक महत्व: दशहरे का त्योहार हिन्दू धर्म में विशेष महत्व रखता है और इसे देवी दुर्गा की जीत के रूप में मनाया जाता है।

  2. सामाजिक एकता: दशहरे के त्योहार में लोग एक-दूसरे के साथ एकता और सामरस्य को महत्व देते हैं, जो समाज में एक मजबूत संबंध बनाता है।

  3. पर्व की धूमधाम: रंग-बिरंगे उत्सव, रामलीला, दुर्गा पूजन और रावण दहन जैसी खास गतिविधियों के जरिए दशहरे का त्योहार खूब धूमधाम से मनाया जाता है।

  4. विजय का प्रतीक: दशहरे का अर्थ है विजय को प्राप्त करना, जिससे यह दिखाया जाता है कि हमें अच्छे और सच्चे मार्ग पर चलना चाहिए।

दशहरे की शायरी:

  1. “समझ कर रावण को नहीं दही धरन, समझो अपने पापों का अंत करने का समय आया है।”

  2. “बुरा जो देखन मैं चला, बुरा न मिलिया कोय, जो दिल खोजा आपना, मुझसे बुरा न कोय।”

  3. “आसमान में उछाल कर भिजवाना है, मन में धर्म की शक्ति यह लाना है। दशहरा का त्योहार मनाकर दुष्टों का नाश करना है।”

दशहरे की विशेष सुविधाएँ:

  1. रावण दहन: दशहरे के दिन रावण की प्रतिमा को जलाकर इस त्योहार को मनाया जाता है।

  2. दुर्गा पूजा: नौ दिन के दशहरे के त्योहार के बाद भक्त दुर्गा माता की पूजा करते हैं।

  3. रामलीला: दशहरे के दौरान लोग रामलीला नाटक का आनंद लेते हैं जिसमें भगवान राम की कथाएं दिखाई जाती हैं।

  4. पंडाल यात्रा: दशहरे के त्योहार के दौरान लोग मां दुर्गा के पंडालों की यात्रा करते हैं।

  5. खुशियों का खर्च: लोग दशहरे के दिन अपने परिवार और दोस्तों के साथ खुशियों का आनंद लेते हैं।

Frequently Asked Questions (FAQs) about Dussehra:

  1. Q: What is the significance of Dussehra?
    A: Dussehra signifies the victory of good over evil, symbolized by Lord Rama’s triumph over the demon king Ravana.

  2. Q: How is Dussehra celebrated in India?
    A: Dussehra is celebrated by organizing Ramleela plays, burning effigies of Ravana, worshipping Goddess Durga, and exchanging greetings with loved ones.

  3. Q: Why is Dussehra also known as Vijayadashami?
    A: Dussehra is also known as Vijayadashami as it marks the day of victory (Vijaya) for Lord Rama over Ravana.

  4. Q: What is the story behind Dussehra?
    A: Dussehra commemorates the day when Lord Rama defeated Ravana and rescued his wife Sita, showcasing the triumph of good over evil.

5

Leave a reply